Search Suggest

सावधान, कहीं आप भी तो नहीं खा रहे ये खतरनाक जहर?

दोस्तों, क्या आपने कभी सोचा है की बुरी आदतों, नशे और व्यसन से दूर रहते हुए एक संयमित जीवन जीने वाले लोग भी आजकल कम उम्र में ही कैंसर, हार्ट अटैक, किडनी फेल, हाई बीपी, शुगर, नसों में ब्लॉकेज, लीवर खराब होने जैसी घातक और जानलेवा बीमारियों की चपेट में कैसे आ जा रहे हैं?

इसका सबसे बड़ा कारण है बाजार में बिकने वाली मिलावटी और केमिकल युक्त खाने पीने वाली चीजें। आजकल हम जो कुछ भी बाजार से लाकर खा पी रहे हैं उनमें से अधिकतर चीजें केमिकल युक्त और मिलावटी हैं।

आज हम आप लोगों को खाने पीने की चीजों में बड़े पैमाने पर इस्तेमाल किए जा रहे एक ऐसे ही जहरीले केमिकल (Chemical) के बारे में विस्तार से बताने जा रहे हैं।

एक Chemical होता है जिसका नाम है हैक्सेन (Hexane), यह Chemical बिल्कुल पानी जैसा होता है। इसकी खासियत यह है कि इसको किसी एक बाल्टी में ले लीजिए और इसके अंदर कोई भी तिलहन वाली चीज डाल दीजिए, तिलहन यानी जिन चीजों में तेल होता है जैसे मूंगफली, तिल, नारियल, अलसी, बादाम, सरसो आदि, थोड़ी ही देर में यह Chemical उसमें जितना भी तेल है उसे निकालकर बाहर कर देगा।

मान लीजिए आपने मूंगफली (Peanut) के दाने डालें हैं तो मूंगफली के अंदर जितना भी तेल है यह Hexane नाम का Chemical उसको निकाल कर बाहर कर देगा और आपकी मूंगफली वैसे की वैसी ही रहेंगी।

हेक्सेन क्या है? (What is Hexane)

Hexane, या N-Hexane (Chemical Formula: C6H14), 6 Carbon Atoms का एक Alkane है। 5 हेक्सेन Isomer हैं जिनमें से n-Hexane unbranched isomer है। Hexane कच्चे तेल (Crude Oil) से बनाया जाता है और अपने शुद्ध रूप में, यह थोड़ी अप्रिय गंध के साथ रंगहीन होता है। यह आसानी से हवा में वाष्पित (Evaporate) हो जाता है और पानी में Slightly घुल (Dissolve) जाता है।

Hexane किस लिए इस्तेमाल किया जाता है? (What is use of Hexane)

आमतौर पर Hexane का उपयोग प्रयोगशालाओं (Laboratories) में समान रसायनों (Chemicals) के साथ मिलाकर अन्य Solvents का उत्पादन करने के लिए किया जाता है। Hexane युक्त इन Solvents का मुख्य उपयोग सोयाबीन, सन, मूंगफली और कुसुम बीज जैसी फसलों से वनस्पति तेल निकालना है। 

Hexane का उपयोग कपड़ा, फर्नीचर, जूता बनाने और छपाई उद्योगों में सफाई एजेंट (Cleaning Agent) के रूप में भी किया जाता है। Hexane छत, जूते और चमड़े के उद्योगों में उपयोग किए जाने वाले विशेष गोंद का एक घटक भी है।

आपको जानकर आश्चर्य होगा की तेल बनाने वाली कम्पनियां और व्यापारी इसी Hexane का इस्तेमाल करते हैं जो एक प्रकार का जहर (Poison) है तथा तमाम रोगों के साथ साथ आजकल कैंसर (Cancer) जैसी घातक और जानलेवा बीमारी का कारण भी बन रहा है।

क्या आप जानते हैं कि मूंगफली (Peanut) के अंदर से तेल निकालकर जिसमें कुछ मात्रा में ये Hexane नाम का Chemical भी मिक्स हो जाता है उस तेल को डिब्बे में पैक करके बाजार में बेच दिया जाता है।

जो अभी आप रिफाइंड तेल (Refined Oil) के रूप में अलग अलग ब्रांड लाकर घर में इस्तेमाल करते हैं और जो मूंगफली बच गयी है उसे वैसी की वैसी ही सुखाकर फ्राई करके सीधे या चिक्की और मिठाईयों में इस्तेमाल करके वापस बाजार में बेच दिया जाता है जो सेहत के लिए बहुत ही हानिकारक और जहर युक्त है। यह एक प्रकार से खली है जिसकी कोई Nutritional Value नहीं है साथ ही बेचने वालों के लिए आम के आम और गुठलियों के दाम जैसा है।

बाजार में पैक करके जो फ्राई की हुई मूंगफली बिकती है वो लेकर आइए, खासतौर से सफर के समय ट्रेन, स्टेशन आदि पर बिकने वाली मूंगफली। उस मूंगफली के दाने को जमीन पर या किसी पत्थर पर रखकर किसी चीज से कुचल दीजिये, आप देखेंगे की वह बिल्कुल पावडर जैसी हो जाएगी लेकिन उसमें से एक बूंद भी तेल नहीं निकलेगा, क्योंकि तेल तो पहले ही निकाला जा चुका है।

क्या आप जानते हैं की सिर्फ मूंगफली ही नहीं बाजार से तिल, नारियल, अलसी, बादाम आदि से बने हुए जो भी पकवान और मिठाईयां आप लेकर आते हैं उनमें से ज्यादातर में से तेल पहले ही निकाला जा चुका होता है। इसलिए ड्राई फ्रूट के रूप में कभी बादाम लेने बाजार जाएं तो ये जरूर चेक कर लें की उसमें से कहीं तेल तो नहीं निकाला जा चुका है।

एक्सपर्ट्स की सलाह है की रिफाइंड खाद्य तेल (Refined Edible Oil) के सेवन से बचें जो अनिवार्य रूप से Hexane नाम के जहरीले Chemical का उपयोग करके ही तैयार किया जाता है।

ये जहर बेचने का खेल हमारे देश में धड़ल्ले से चल रहा है, जिसका नतीजा है कि यह जहर खाकर लोग असमय ही अपना स्वास्थ्य, पैसा और जीवन सब कुछ गंवा रहे हैं वहीं उद्योगपति और डॉक्टर मालामाल हो रहे हैं। 

इस जहरीले कारोबार को रोकने वाला इस देश में कोई नहीं, न तो सरकार, न अधिकारी और न ही कोई नेता। क्योंकि सरकार कोई भी हो वह पूंजीपतियों और उद्योगपतियों के हाथों की कठपुतली होती है।

यदि आपको हमारे द्वारा दी गई यह जानकारी अच्छी लगी हो तो इस पोस्ट के ऊपर दिए गए शेयर बटन से इसे Share जरूर करें।

🎉दोस्तों, SanjayRajput.com अब Google News पर भी उपलब्ध है। Follow करें 👇

Copyright © All rights reserved.

एक टिप्पणी भेजें