Header Ads

Vinod Van Gorakhpur - A Natural Picnic Spot

गोरखपुर रेलवे स्टेशन से मात्र 12 किलोमीटर दूर गोरखपुर-कुशीनगर नेशनल हाईवे न.28 पर गोरखपुर एयरपोर्ट से आगे साल के वृक्षों से भरा कुसम्ही जंगल है। इस कुसम्ही जंगल के अंदर दो प्रसिद्ध स्थान हैं- एक Budhiya Mai Mandir (बुढ़िया माई मन्दिर) है, जो कि एक धार्मिक पिकनिक स्पॉट है जिसमें एक पुराना देवी मंदिर है और दूसरा Vinod Van नामक पिकनिक स्पॉट।

आज हम आपको बताने जा रहे हैं जंगल के सुरम्य वातावरण में स्थित गोरखपुर के एकमात्र प्राकृतिक पिकनिक स्पॉट Vinod Van के बारे में। इस Vinod Van में एक छोटा चिड़ियाघर, बच्चों के लिए कुछ झूले, एक फूल उद्यान और एक जलपान गृह भी है। यदि आप शहर की भीड़भाड़, धुआं, प्रदूषण, शोर-शराबे से ऊब चुके हैं और कुछ पल प्रकृति की गोद में सुकून से बिताना चाहते हैं तो गोरखपुर का Vinod Van आपके लिए एकदम सही जगह है।

Vinod Van में आप चाहें तो किसी भी हरे पेड़ की छांव में हरी घास पर बैठकर चारों ओर के घने जंगल की प्राकृतिक छटा को घण्टों इत्मिनान से निहार सकते हैं। और हरेे पेड़ों से भरे प्रदूषण मुक्त प्राकृतिक वातावरण में ढेर सारी शुद्ध ऑक्सीजन मुफ्त में ले सकते हैं जो कि आजकल शहरों में दुर्लभ है। आप इस जंगल में घूमने का भरपूर आनंद लेंगे क्योंकि चारों ओर की हवा ठंडी प्राकृतिक और सुकून से भरी है। यह Vinod Van चारों ओर से सुंदर और ऊंचे हरे साल के वृक्षों से घिरा हुआ है।

यहां हिरण के साथ ले सकते हैं सेल्फी

आपको इस जंगल में कोई शेर, बाघ, चीता या भालू तो नहीं देखने को मिलेगा लेकिन बहुत से चंचल बंदर हैं जो आपके पास मौजूद खाने की चीजों को लपकने के लिए तैयार हैं। आप यहां कुछ हिरणों को भी लोहे की जाली वाली फेंसिंग में घूमते हुए देख सकते हैं जो आपको देखते ही कुछ खाने के लालच में आपकी ओर आते हैं जिन्हें आप घास आदि खिलाते हुए एक अच्छी सेल्फी भी ले सकते हैं। और अपनी इस यात्रा को यादगार बना सकते हैं

शहर के घुटन भरे माहौल से ऊब चुके बच्चों के लिए यहां झूलें, खुला मैदान, हरी घास के साथ एक अच्छा और यादगार दिन होगा। यहां के चिड़ियाघर में आपको कुछ तोते, खरगोश, अजगर और मोर भी देखने को मिलते हैं।

Vinod Van में प्रवेश है निःशुल्क

Vinod Van में प्रवेश पूरी तरह फ्री है, अतः यहां पर जाने के लिए आपको कोई भी प्रवेश शुल्क नहीं देना है। हां यदि आपके पास कोई वाहन है तो स्टैंड का शुल्क देना पड़ सकता है। यह Vinod Van वन विभाग की देखरेख में है, जिन्होंने पार्क के करीब यात्रियों के लिए एक गेस्टहाउस भी खोला है। इसलिए अगर आप अपने प्रियजनों के साथ कुछ यादगार और सुकून भरे पल बिताना चाहते हैं, तो इस प्रकृति की गोद से बेहतर जगह और क्या हो सकती है!

आप यहां बंदरों को जंगल में तथा सड़क के किनारे हर तरफ उछलते कूदते हुए देख सकते हैं। यदि आप उन्हें खाने के लिए कुछ देते हैं, जैसे, केला, बिस्कुट या मूंगफली, तो वे आपके करीब आएंगे। उनकी मजेदार गतिविधियों को देखने में आपको बहुत मज़ा आएगा।

यहां Vinod Van पार्क के चारों तरफ से बाउंड्री लगा दी गयी है। एक तरफ, आप बड़े साल के पेड़ पाएंगे, जो सड़क को दर्शाते हैं। चिड़ियाघर के पीछे की तरफ शौचालय की भी सुविधा है।

रविवार को आते हैं लोग पिकनिक मनाने

रविवार को फैमिली, कपल्स और बच्चे यहां ज्यादा आते हैं और वे अपना नाश्ता या लंच लेकर आते हैं। वे जंगल में खाने का आनंद लेते हैं, अंदर जाते हैं, मिनी चिड़ियाघर में जानवरों को देखते हैं। रविवार को यहां स्कूली बच्चे भी अधिक आते हैं और वे सभी दिशाओं में बड़े हर्ष के साथ दौड़ते देखे जा सकते हैं। यहां का खुला प्राकृतिक वातावरण देखकर उनके चेहरे पर एक विशेष ख़ुशी देखी जा सकती थी। पिकनिक मनाने आये हुए लोग अपने साथ लाये हुए खाने-पीने की चीजों को हरी घास पर पेड़ों की छांव में इत्मिनान से बैठकर खाते-पीते मौज करते हैं और अपने-अपने स्थान पर लौट जाते हैं।

तो इस प्रकार Vinod Van गोरखपुर के लिए आपकी ड्राइव एक बेहद सुखद और सुकून भारी यात्रा है। इस जंगल के बीच से होकर गुजरने वाली गोरखपुर-कुशीनगर की सड़क हरे पेड़ों की छांव से हर समय ठंडी और सुकून से भरी रहती है। कुसम्ही जंगल में स्थित गोरखपुर का Vinod Van पिकनिक स्पॉट स्थानीय लोगों के लिए सैर और मनोरंजन का एक बेहतरीन स्थान है। हरे भरे जंगल और प्रकृति की गोद में कुछ पल सुकून के बिताना वाकई मन और शरीर के लिए बहुत ही सुखद और कायाकल्प कर देने वाला है।

विनोद वन गोरखपुर की झलक देखने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर जाएं...




No comments:

Powered by Blogger.